PubG Addiction में गवाय 6 लाख 32 हज़ार

PubG Addiction में गवाय 3 महीनें में 6 लाख 32 हज़ार रूपए

Pub-G Addiction
भारत सरकार ने 59 चाइनीज एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है, हालांकि इस लिस्ट में टिकटॉक के बाद भारत में सबसे ज्यादा लोकप्रिय एप पबजी मोबाइल (PUBG Mobile) का नाम है, लेकिन सोशल मीडिया पर पबजी को भी बैन करने की मांग उठ रही है।

पबजी पर बैन लगाने की मांग चाइनीज कनेक्शन के कारण नहीं, बल्कि इसके पीछे पागल लोगों की तादाद बढ़ने कारण हो रही है। आपको जानकर हैरानी होगी कि ऑनलाइन पढ़ाई के नाम पर मिले मोबाइल पर 10 वीं के छात्र को पबजी खेलने का कुछ ऐसा जुनून चढ़ा कि उसने गेम कैरेक्टर के लिए डायमंड ड्रेस व हथियार खरीदने पर पिताजी के बैंक अकाउंट से  6 लाख 32 हज़ार लुटा दिए। यह घटना हजारीबाग के बड़कागांव की है।

ट्रिब्यून इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक बच्चे के पिता ने ये पैसे मेडिकल खर्च के लिए रखे थे जिसे उसे बेटे ने अपने पबजी अकाउंट को अपग्रेड करने में खर्च कर दिए। रिपोर्ट में कहा गया है कि बच्चे ने अपने दोस्तों के अकाउंट को अपग्रेड करने के लिए भी पैसे खर्च किए हैं। बैंक स्टेटमेंट से पैसे के खर्च होने के बारे में जानकारी मिली है।
बच्चे के पिता रेलवे में लोको पायलट हैं। बच्चे के पिता ने बताया कि वह घर से दूर नौकरी करते हैं और उनका बच्चा अपनी मां के साथ गांव में रहता है। बच्चे ने सभी ट्रांजेक्शन अपनी मां के फोन से किए हैं।
पिता को उनकी सारी गाढ़ी कमाई लुट जाने की सूचना उनके बेटे के ही एक दोस्त ने दी। बेटे की करतूत पर पिता को पहले तो यकीन तो नहीं हुआ। बाद में उन्होंने साइबर सेल में अपने खाते से रुपये की निकासी की शिकायत की तो जांच में पूरा मामला सामने आया।


तीन माह से खेल रहा था गेम

Pub-G Addiction
जांच के बाद जब बेटे से कड़ाई से पूछताछ हुई तो सारा सच सामने आ गया। बेटा तीन माह से ऑनलाइन गेम खेल रहा था। पढ़ाई के नाम उसने पिता से मोबाइल लिया था, लेकिन पढ़ाई करने की बजाय वह मोबाइल में पबजी गेम खेलता रहा।

PubG Addiction में गेम के कैरेक्टर के लिए डायमंड, ड्रेस और हथियार खरीद गंवा दिए लाखों

पबजी गेम के स्टेज को पार करने के लिए छात्र ने पैसे से डायमंड, अत्याधुनिक हथियार, मंहगे कपड़े खरीदे। ये कपड़े और हथियार पबजी खेलने वाले लोगों को उस कैरेक्टर के लिए खरीदने होते हैं, जो गेम में उसकी ओर से खेलता है। 10 वीं के छात्र ने अपने गेम के लिए 6  लाख 32 हजार रुपये के कपड़े, हथियार और डायमंड खरीदे। वहीं अपने दोस्तों के लिए उसने करीब सवा लाख रुपये के गेम में रिचार्ज करा कर हथियार दिए और करीब 20 हजार रुपये नकद भी दिये

मामला की जांच हुई। छात्र ने लीगल तरीके से ही गेम खेलने में रुपयों की बर्बादी की है। यही ठगी तो नहीं कहा जाएगा, लेकिन यह विषय चिंताजनक है। बच्चों को मोबाइल देते समय परिजन उनकी निगरानी रखें।

स्टेटमेंट लिया तो बैंक अधिकारी भी हो गए हैरान, 30 पेज और चार पासबुक हो गए फुल

साइबर सेल की जांच में जब बैंक से पूरी जानकारी मांगी गई तो पैसे के डिटेल के लिए चार पासबुक भर गए। इसके बाद बैंक ने करीब 30 पेज में पूरा खर्च का ब्यौरा दिया है। चूंकि पबजी पर उसने लीगल तरीके से रिचार्ज कराकर गेम खेला, इसलिए यह ठगी की श्रेणी में नहीं आया और साइबर सेल में इस पर कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की जा सकी। 


PubG Addiction है खतरनाक, हो सकती हैं ये मानसिक बीमारियां

Pub-G Addiction
टीनेएजर्स और युवाओं के बीच एक नया सेंसेशन बन गया है PUBG गेम। यह एक ऑनलाइन गेम है जिसे खेलने वाले लोग बड़ी जल्दी PubG Addict बन जाते हैं और उसके बाद उनके व्यवहार में बदलाव होने लगता है जिससे कई तरह की मानसिक समस्याएं हो सकती हैं।

 Brain पर  विपरित असर 

PubG Addiction से होने वाली सामान्य  परेशानियां-

  •  नींद की कमी या नींद से जुड़ी परेशानी
  •  असल जिंदगी से दूरी
  •  स्कूल-कॉलेज से लगातार ऐब्सेंट रहना
  • जरूरत से ज्यादा गुस्सा दिखाना
  •  स्कूल-कॉलेज की ग्रेड्स और परफॉर्मेंस में लगातार गिरावट

PUBG गेम दुनियाभर के कई प्लेयर्स के साथ खेला जाता है और सबके टाइम जोन अलग-अलग होते हैं जिस वजह से भारत में इस गेम को खेलने वाले ज्यादातर लोग रात में 3-4 बजे तक जगकर यह गेम खेलते रहते हैं जिस वजह से उन्हें सिर्फ नींद ही नहीं बल्कि स्वास्थ्य से जुड़ी दूसरी कई समस्याएं भी शुरू हो जाती हैं।

  • नींद पूरी न होने से ब्लड प्रेशर और डायबीटीज का खतरा
  • पर्याप्त नींद न लेने से एक्रागता की कमी और कमजोर याददाश्त
  • गेम में हिंसा दिखाई जाती है और हथियारों का इस्तेमाल होता है जिससे बच्चों के स्वभाव में चिड़चिड़ापन बढ़ रहा है।
                                    Pub-G Addiction
यह 
PubG Addiction की पहली खबर नहीं है। इससे पहले भी इस तरह की रिपोर्ट सामने आई हैं। पिछले साल एक बच्चा पबजी गेम खेलने में इतना रम गया था कि वह पानी की जगह तेजाब पी गया था। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में एक लड़के की मानसिक हालत पबजी खेलने के कारण बिगड़ गई थी।

Share This Article with your Friendsshare on Facebookshare on WhatsApp





Post a Comment

0 Comments