पानी में धनिया कैसें उगाय ? [ Hydroponics ]


बिना मिट्टी सिर्फ पानी में धनिया कैसें उगाय ?


पानी में धनिया उगानें का आसान तरीका 


धनिया (Coriandrum sativum) एक गहरे हरे रंग की पत्तियां हैं जो एशियाई और लैटिन व्यंजनों में जायका बड़ाने के लिए ताजा काटकर उपयोग किया जाता है। यह कोरिएन्डर या चाइनीज़ पार्सले के नाम से भी जाना जाता है। धनिया की कीमत तो वही इंसान जान सकता है जिसे खाना बनाने का शौक हो। यकीनन स्वाद और फ्लेवर के लिए धनिया की जरूरत होती है लोगों को और ऐसे में अगर फ्रेश धनिया खाने पर गार्निश के लिए डाला जाए तो कितना अच्छा होगा। खाने का जायका और भी ज्यादा बढ़ जाएगा। लेकिन हर वक्त फ्रेश धनिया खाने के लिए लाना बहुत मुश्किल हो जाता है। ऐसे में अगर हम कहें कि आप घर में ही धनिया उगा लीजिए जो आपके लिए अच्छा साबित होगा तो ?


वैसे तो धनिया उगाना बहुत आसान है, धनिया के बीज आसानी से मिट्टी में उगाए जा सकते हैं, लेकिन हम आपको बताते हैं ऐसा तरीका जिसमें आपको धनिया उगाने के लिए सिर्फ पानी की जरूरत पड़ेगी। जी हां, किसी को भी और ज्यादा मुश्किल नहीं होगी। तो चलिए जानते हैं कि कैसे बिना मिट्टी के अपने किचन में ही धनिया उगाई जा सकती है।


घर में पानी में धनिया उगाने के उपाय:

1. अच्छी गुणवत्ता वाले धनिया के बीज से शुरुआत करें।
बेहतर अंकुरण के लिए कृषि स्टोर से बीज खरीदें या आप सामान्य स्टोर से सामान्य धनिया खरीद सकते हैं।       
                                        coriander seeds

3. अब एक कंटेनर लें, जो पारदर्शी नहीं होना चाहिए।
4. इसे पानी से भरें। अब पानी से भरे कंटेनर के ऊपर एक टोकरी रखें। अब इस टोकरी पर, विभाजित बीज छिड़कें।
                                          
                                          How to grow coriander without soil
5.  कंटेनर में थोड़ा पानी डालें, ताकि बीज पानी के संपर्क में आ सकें। बीजों को सूखने न दें।

अगर आपको ऐसा लगता है कि आप पानी को रिफिल करके बीज को नम नहीं रख पाएंगे, तो बीजों को टिशू पेपर या सूती कपड़े से ढक दें।
6. अब इस सेटअप को एक उज्ज्वल स्थान पर रखें। सर्दियों में, सीधी धूप ठीक है।

लेकिन गर्मियों में आपको चिलचिलाती धूप से हाइड्रोपोनिक रूप से उगाए गए धनिया सेटअप की रक्षा करनी चाहिए।

7-10 दिनों में बीज अंकुरित होने लगेंगे।

7. दोस्तों, हमने बीजों के ऊपर टिशू पेपर रखा है, इसे अधिक समय तक नम रखने के लिए। जब बीज अंकुरित होने लगते हैं, या तो टिशू पेपर को हटा दें या इसे वहीं रहने दें लेकिन हाथों से रगड़ें और फाड़ें, ताकि जड़ें पानी में जा सकें।


अगर आपने हर हफ्ते नए बीज डाले हैं तो हर हफ्ते फ्रेश धनिया आपको हार्वेस्ट के लिए मिलेगा।
इस तकनीक को जरूर अपना कर देखिए क्योंकि इससे आपके किचन में ही धनिया कितनी अच्छी तरह से उगता है।

हरे धनिया के फायदें   

( benefits of coriander )

                                benefits of coriander


कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रण रखे

हरे धनिया के फायदे कोलेस्ट्रॉल के संग जुड़े हुए हैं और इसे खाने से कोलेस्ट्रॉल का स्तर शरीर में सही बना रहता है। अधिक कोलेस्ट्रॉल होने पर अगर हरा धनिया खाया जाए तो कोलेस्ट्रॉल का स्तर कंट्रोल में रहता है। दरअसल हमारे शरीर में दो प्रकार के कोलेस्ट्रॉल पाए जाते हैं। जिनमें से एक कोलेस्ट्रॉल को शरीर के लिए गुणकारी माना जाता है और दूसरे प्रकार का कोलेस्ट्रॉल दिल के लिए घातक होता है। धनिया खाने स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाने वाले कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कंट्रोल में रहती है जबकि स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद वाले कोलेस्ट्रॉल की मात्रा शरीर में बढ़ाने में धनिया मदद करता है।

लीवर के लिए फायदेमंदहरा

beneficial for lever

धनिया खाने से लीवर एकदम सही से कार्य करता है और लीवर को अनगिनत लाभ मिलते हैं। हरे धनिये में पाए जाने वाले तत्व लीवर की सक्रियता को बढ़ाने का कार्य करते हैं और लीवर स्वस्थ बना रहता है। इसलिए जिन लोगों को लीवर संबंधित रोग हैं वो लोग धनिया का सेवन करना शुरू कर दें।

डायबिटीज करें कम

beneficial for sugar

डायबिटीज बेहद ही गंभीर बीमारी होती है और यह होने पर शरीर को अन्य तरह की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। डायबिटीज के मरीजों के लिए हरा धनिया खाना उत्तम माना जाता है और इसे खाने से डायबिटीज के स्तर को कम किया जा सकता है। इसलिए जिन लोगों को डायबिटीज की बीमारी है वो लोग अपनी डाइट में हरे धनिया शमिल करें और इसका सेवन नियमित रूप से करें।

अल्जाइमर के रोगियों के लिए उत्तम

धनिये को अल्जाइमर के रोगियों के लिए लाभदायक माना जाता है और इसे खाने से दिमाग एकदम दुरूस्त रहता है। अल्जाइमर का रोग दिमाग से जुड़ा होता है और इस रोग के होने पर व्यक्ति की याददाश्त पर बुरा प्रभाव पड़ता है। वहीं हरे धनिये के अंदर विटामिन ‘के’ उच्च मात्रा में पाया जाता है और विटामिन ‘के’ दिमाग के लिए कारगर साबित होता है और इसे खाने से अल्जाइमर की बीमारी को सही किया जा सकता है। इसलिए अल्जाइमर के रोगियों को धनिया का सेवन जरूर करना चाहिए। इसके अलावा हरे धनिया के फायदे नर्वस सिस्टम से भी जुड़े हैं और इसे खाने से नर्वस सिस्टम सक्रिय बना रहता है।

घाव को करे सही

हरे धनिया के फायदे इसे विशेष प्रकार की जड़ी बूटी बनाते हैं और इसका प्रयोग घाव को ठीक करने के लिए भी किया जाता है। धनिया के अंदर anti-inflammatory तत्व सहित कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो कि चोट के घाव को सही करने का कार्य करते हैं। इसलिए चोट लगने पर आप उसपर धनिया का लेप लगा लें या घाव को धनिया के पानी से साफ कर लें। वहीं मुंह में छाले होने पर धनिया के पानी से कुल्ला कर लें। धनिया के पानी से कुल्ला करने से मुंह के छाले एकदम सही हो जाएंगे।

मुंह की बदबू करे दूर

beneficial for mouth smell

हरे धनिया के फायदे मुंह की बदबू को दूर करने में फायदेमंद साबित होते हैं. मुंह से बदबू आने की शिकायत से परेशान लोग धनिया के पानी से कुल्ला करें। दिन में दो बार धनिया के पानी से कुल्ला करने से मुंह से बदबू आने की शिकायत दूर हो जाएगी। धनिया का पानी तैयार करने के लिए आप गैस पर एक गिलास पानी को गर्म करने के लिए रख दें और इसके अंदर धनिया के पत्ते डाल दें। जब ये पानी उबल जाए तो इसे छान लें और इस पानी को ठंडा कर इससे कुल्ला कर लें।

त्व्चा के लिए गुणकारी (coriander benefits for face)

beneficial for face

हरे धनिया के फायदे त्वचा के लिए लाभकारी होते हैं. धनिया का लेप अगर चेहरे पर लगाया जाए तो चेहरे से जुड़ी कई समस्याओं को सही किया जा सकता है। धनिया का लेप चेहरे पर लगाने से मुंहासों और दानों से निजात मिल जाती है। धनिया का लेप बनाना बेहद ही सरल है। आप बस थोड़ा सा धनिया लेकर उसे अच्छे से पीस लें और फिर इसे अपने चेहरे पर 10 मिनट के लिए लगा लें। 10 मिनट बाद पानी की मदद से चेहरे को साफ कर लें। ये लेप लगाने से आपका चेहरा एकदम साफ हो जाएगा और आपको मुंहासों से भी आराम मिल जाएगा। आप इस लेप को हफ्ते में दो बार लगाएं।

शरीर में ना हो खून की कमी

beneficial for blood

धनिया का सेवन करने से शरीर में आयरन की कमी नहीं होती है। इसलिए जिन लोगों को खून कमी है वो धनिया खाया करें। इसे खाने से खून की कमी तुरंत दूर हो जाएगी और शरीक में खून का स्तर बढ़ जाएगा।

Share This Article with your Friendsshare on Facebookshare on WhatsApp

Post a Comment

0 Comments