इयरफोन में रिंग(स्ट्रिप) की वह जानकारी जो शायद ही कोई जानता है।

यह एक महत्वपूर्ण जानकारी हैं इसके बारे में शायद बहुत कम लोग जानते हों।

आज के समय में इयरफोन का उपयोग लगभग सभी लोग करते हैं पर क्या आप जानते हैं की आपके इयरफोन में जो ३ रिंग(स्ट्रिप)बनी हैं वह किस काम आती हैं?हर इयरफोन में अलग-अलग रिंग आती हैं।आजकल के इयरफोन में ३ रिंग आती हैं।तो आज में आपको ये बताता हूं कि इन अलग-अलग रिंग से क्या तात्पर्य हैं।

मोनो माइक्रोफोन इयरफोन:-इस प्रकार के इयरफोन में केवल १ ही रिंग होती हैं यह इयरफोन बहुत पहले उपयोग किया जाता था अब यह कम हो गये हैं।

इस प्रकार के इयरफोन को मोनो माइक्रोफोन कहते हैं इसमें केवल एक तरफ ही आवाज़ आती हैं दायीं तरफ या फिर बायीं तरफ।

स्टीरियो(stereo) इयरफोन:-इसमें २ रिंग होती हैं।इस प्रकार के इयरफोन में दोनों तरफ आवाज़ आती हैं। ऐसे इयरफोन में माइक नहीं आता हैं,जिससे सिर्फ आवाज़ सुन सकते हैं।

यह केवल साउंड के लिये बनाये जाते हैं।


3 रिंग वाला इयरफोन: ये सबसे नये इयरफोन हैं जिनका चलन आज के समय में बहुतायत मात्रा में हो रहा हैं।


इसमें ३ रिंग होती हैं इन तीनों रिंगों के मध्य के बिंदु निम्न हैं:-

सबसे पहला बिंदु बायें स्पीकर के लिये।

दूसरा दायें स्पीकर के लिये।

तीसरा ग्राउंड के लिये

चौथा माइक के लिये जो कॉलिंग करने के लिए काम आता हैं। इस प्रकार के जैक्स ऑडियो वीडियो ट्रांसफर के लिए भी उपयोगी होते हैं।


Post a Comment

0 Comments